4 नवम्बर 2019 से शुरू हुआ एक बार फिर से ऑड और ईवन "Delhi"

4 नवम्बर 2019 से शुरू हुआ एक बार फिर से ऑड और ईवन "Delhi"

प्रदुषण इतना की नियमों की ज़रूरत होती है अब तो Delhi को प्रदुषण मुक्त करने के लिए, इसलिए CM Arvind Kejariwal हर बार लागू करतें हैं Odd-और-Even "Delhi" आखिर क्या है ये Odd और Even चलिए हम बताते है आपको इसके बारे में.

Report Delhi: दिल्ली में वायु प्रदूषण के चलते Odd-or-Even योजना को लागू करा जाता है. और आज 4 Nov 2019 की सुबह आठ बजे से इसको शुरू करा गया है. पहले दिन दिल्ली की सड़कों पर केवल सिर्फ वही निजी गाड़ियां चल सकेंगे जिनके नंबर प्लेट का अंतिम अंक सम संख्या यानी कि ईवन होगी. सीएम केजरीवाल ने रविवार को लोगों से अपील की, कि वे अपने बच्चों और अपने  शहर के लिए इस Odd-Even नियम का पालन करें. क्योकि ये हम सभी की भलाई के लिए चलाया जा रहा है. और मुझको पूरी उम्मीद है की पिछली बार की तरह आप इस बार भी इस नियम का पालन करेंगे. यह योजना 15 नवम्बर तक सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक लागू रहेगी. इसके अन्तरगत 4, 6, 8, 12 और 14 नवंबर को सड़कों पर विषम पंजीकरण संख्या (1, 3, 5, 7, 9) से समाप्त होने वाले चार पहिया निजी वाहनों को सड़कों पर निकलने की अनुमति नहीं दी जाएगी. इसी तरह, सम संख्या (0, 2, 4, 6, 8) के साथ समाप्त होने वाले रजिस्ट्रेशन नंबर वाली गाड़ियों को 5, 7, 9, 11, 13 और 15 नवंबर को सड़कों पर चलने की अनुमति नहीं दी जाएगी. योजना 10 नवम्बर (रविवार) को लागू नहीं होगी और पाबंदी अन्य राज्यों के पंजीकरण नम्बर पर भी लागू होगी. ऐसा करना हमारे और हमारे शहर के लिए बेहद लाभकारी होगा.

आखिर ये Odd-or-Even क्या है

Delhi के CM अरविंद केजरीवाल द्वारा इस नियम को लागू कराया गया था. जो की पहली बार एक जनवरी साल 2016 में लाया गया था और उस समय Delhi की जनता ने इसका समर्थन भी किया था. और तभी से आज तक Delhi के प्रदुषण लेवल को देखते हुए हर साल इसको लगु करा जाता है. जिसका सिम्पल सा तरीका होता है जो की Odd तारीख वाले दिन आप अपनी गाड़ी के Odd नंबर के साथ अपनी गाड़ी चला सकते हैं. उसी के साथ Even नंबर वाले दिन आप अपनी गाड़ी के आखरी नंबर Even के साथ अपनी गाड़ी चला सकतें हैं.