आख़िर क्या है इस बार के सूरजकुंड मेले में ख़ास.

आख़िर क्या है इस बार के सूरजकुंड मेले में ख़ास.

यदि आप कलाप्रेमी हैं तो इस बार सूरजकुंड मेला देखने ज़रूर जाएँ.

हेलो दोस्तों अघोरी बाबा के सभी पाठकों को प्यार भरा नमस्कार, इन दिनों सूरजकुंड मेला लगा हुआ है और काफी ज़ोर-शोर से लोग हर साल यहां देश और विदेश से घूमने आते हैं. सूरजकुंड मेला भारत का एकमात्र ऐसा मेला है जहां पर हस्तकलाकृति देश विदेश की कलाकृतियों का एक साथ समावेश देखने को मिलता है। सभ्यता, समाज, संस्कृति और देश के अलग-अलग राज्यों की विरासत की झलक एक साथ एक ही जगह पर आप सभी को देखने को मिल जाएगी और वो जगह है सूरजकुंड मेला जी हां इसको हर साल आयोजित करा जाता है। इस सूरजकुंड मेले को भारत के सभी राज्यों में से किसी एक राज्य की थीम पर आयोजित किया जाता है और इस साल सूरजकुंड मेले को हिमाचल प्रदेश की थीम पर आयोजित किया गया है। इससे लोग भारत के अलग-अलग राज्य के बारे में भी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं साथ ही राज्य-विशेष के बारे में भी जानकारी हासिल करते हैं.
हस्तनिर्मित कलाकृति और अलग-अलग राज्यों का खान-पान भी आप एक ही जगह पर चख सकते हैं। सूरजकुंड मेले में सुबह 10:30 से शाम को 8:30 बजे तक प्रवेश कर सकते हैं। यदि आप भीड़ से बचना चाहते हैं तो आप इसका टिकट ऑनलाइन बुक करवा सकते हैं। इसके अलावा आप सूरजकुंड मेले के परिसर से आप अपना टिकट बुक करवा सकते है। आम-दिनों में आपको मेले का प्रवेश टिकट 120 रूपए का मिलेगा वही अगर आप शनिवार और रविवार के दिन यहां आते हैं तो आपको यही टिकट 180 रूपए तक का मिलेगा। हालाँकि आप अपनी सुविधा के अनुसार यहां घूमने आ सकते हैं।