क्या है मोदी सरकार का ये नया “ई-सिगरेट अध्यादेश 2019” India

आम सिगरेट और ई-सिगरेट में इतना ही फर्क है की ई-सिगरेट में तम्बाकू नहीं होता और इसमें से धुआ नहीं निकलता. निकलता है तो सिर्फ भाप जो निकोटिन को भाप बना कर हमरे शरीर में पहुचती है. और लोगो का मानना यह है की ई-सिगरेट आम सिगरेट से कम खतरनाक है.

फिन्गर्प्रिंट लॉक की वजह से अब हमारा व्हाटसप ज्यादा सुरक्षित हो गया है.

हम अपना मोबाइल फ़ोन कही दूसरी जगह रख कर भूल जाते हैं और इतने में कोई हमारा व्हाटसप चेक कर लेता है. सो अब ऐसा बिलकुल भी नहीं हो सकता. और इस फिन्गार्प्रिंत लॉक की वजह से अब हमारा व्हाटसप ज्यादा सुरक्षित हो गया है.